उत्तरापथ

तक्षशिला से मगध तक यात्रा एक संकल्प की . . .

या देवी सर्व भूतेषु संघ रूपेण संस्थिता ||


गत वर्ष नवरात्रिपर यह लेखमाला लिखी थी| साधकों के लिए पुनः समर्पित है|

या देवी सर्व भूतेषु संघ रूपेण संस्थिता ||.

अक्टूबर 17, 2012 Posted by | सामायिक टिपण्णी | टिप्पणी करे

   

%d bloggers like this: